प्रवर्जन

प्रवर्जन

 

 

 

८-७-२०१५ तक प्रवर्जन की स्थिति

प्रवर्जन की प्रकृति

संबंधित विद्यालय का नाम

जाने वाले छात्रों की संख्या

आने  वाले छात्रों की संख्या

छात्र

छात्रा

कुल

छात्र

छात्रा

कुल

राष्ट्रीय एकीकरण नीति

ज.न.वि. पडवे    जिला – रत्नागिरी   महाराष्ट्र

13

07

20

05

04

09

 

 

दिनांक  १-८-२०१५ तक लघू प्रवर्जन की स्थिति

विद्यालय का नाम जहाँ से छात्र आए हैं

व्यावसायिक

विज्ञान

कला

वाणिज्य

कुल

छात्र

छात्रा

कुल

जैसलमेर

 

 

 

 

 

 

 

 

गंगानगर

 

 

 

 

 

 

 

 

नागौर

 

 

 

 

 

 

 

 

चुरू